अखिलेश यादव पर जमकर बरसे CM योगी, चाचा शिवपाल की तारीफ की

0
184

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी ने शुक्रवार को सपा मुखिया अखिलेश यादव पर जमकर बरसे। वहीं दूसरी तरफ उनके चाचा शिवपाल की तारीफ करना नहीं भूले। मुख्यमंत्री योगी शुक्रवार को राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब देते हुए समाजवादी पार्टी और इसके अध्यक्ष अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा। सामाजवादी पार्टी के विधायक शिवपाल की कई बार तारीफ की। अखिलेश यादव से रहा नहीं गया और उन्होंने यह कहकर तंज कसा कि उनके चाचा की बहुत चिंता की जा रही है। इस दौरान खूब ठहाके लगे।

इसे भी पढ़ेंः किसानों को 5 वर्ष तक मिलेगी मुफ्त सिंचाई की सुविधाः सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव से नाराज चल रहे शिवपाल यादव की सदन में दो बार तारीफ की और दूसरों के सामने उन्हें मिसाल के तौर पर पेश किया। मुख्यमंत्री ने यूपी में टैबलेट वितरण का जिक्र करते हुए कहा, ”हम बच्चों को टैबलेट और स्मार्टफोन दे रहे हैं। मैं सभी पक्षों के सभी सदस्यों को कहूंगा, मैं धन्यवाद दूंगा शिवापल यादव को उन्होंने भी अपनी विधानसभा सीट पर युवाओं में टैबलेट का वितरण किया। अन्य सदस्य भी करें। सभी जगह गए हैं, पहल करना पड़ेगा। एक करोड़ युवाओं को वितरण किया जा रहा है।” इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पलटकर चाचा शिवपाल की ओर देखा और मुस्कुराते हुए नजर आए।

इसे भी पढ़ें: राज ठाकरे ने बताया क्यों किया अयोध्या दौरा रद्द, उत्तर भारतीयों के अपमान के आरोप पर कही ये बात

समाजवादी पार्टी पर कटाक्ष करते हुए भी योगी आदित्यनाथ ने शिवपाल यादव के समाजवाद से जुड़ाव का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ”आपकी कार्यपद्धति आपको पहचान दिलाती है। नाम जोड़ने से पहचान नहीं होती। समाजवाद को आप लोगों ने मृगतृष्णा बना दिया। जब समाजवाद की बात होती थी तो डॉक्टर लोहिया की चर्चा होती थी, जय प्रकाश जी की चर्चा होती थी, संघर्षशील नेताओं की चर्चा होती है, आज समाजवादी पार्टी में डॉक्टर लोहिया पर लेखनी कभी कभी सिर्फ शिवपाल जी की देखता हूं। उनका लेख देखने को मिलता है। आपको सही मायने में लोहिया जी को पढ़ना चाहिए।”

इसे भी पढ़ें: कपिल सिब्बल से अपेक्षा नहीं थी कि सांसद बनने के लिए वह ऐसा कदम उठाएंगेः तारिक अनवर

जब जब सीएम योगी ने शिवपाल यादव का जिक्र किया, अखिलेश यादव हंसते हुए नजर आए। मुख्यमंत्री का भाषण खत्म होने के बाद अखिलेश यादव स्पष्टीकरण मांगने के लिए खड़े हुए तो उन्होंने कहा, ”नेता सदन ने बहुत लंबा भाषण दिया। बहुत सारी बातें उसमें आ गईं। इसके दौरान नेता सदन ने हमारे चाचा की बहुत चिंता की। अभी तक तो मेरे चाचा थे, लेकिन अब तो नेता सदन भी उन्हें चाचा कह रहे हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here