पीएम को बताना चाहिए क्यों तीन काले कानून लाए गए और क्यों वापस किए गए: अखिलेश

0
147

गोंडा। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पंजाब के दौरे पर गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा में चूक पर भले ही कोई भी प्रतिक्रया ना दी हो। लेकिन आज उन्होंने कहा कि किसान भाईयों को प्रधानमंत्री को मंच पर जाने देना चाहिए था, ताकि खाली कुर्सियां देखते तो उन्हें अच्छा लगता। सपा मुखिया यहां पूर्व मंत्री स्वर्गीय विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित के सिंह के जन्मदिवस पर सूरज होटल के प्रांगण में स्थापित पूर्व मंत्री पंडित सिंह की प्रतिमा का अनावरण कर उन्हें श्रद्धांजलि देने के बाद उमड़े जनसमूह को संबोधित कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक के मामले में पंजाब सरकार ने किया उच्च स्तरीय कमेटी का गठन

पंजाब के एक कार्यक्रम में जाते समय प्रधानमंत्री के सुरक्षा को लेकर उठे विवाद में अखिलेश ने कहा कि किसान भाईयों को प्रधानमंत्री को मंच पर जाने देना चाहिए था, ताकि खाली कुर्सियां देखते और किसानों को बताते तीन काले कानून क्यों लाए गए और तीनों कानून क्यों वापस किए गए। ये पूरा देश सुनने से रह गया। पंजाब में खाली कुर्सियां थीं। उनके लिए यूपी में भी खाली कुर्सियां हैं। सात सौ किसानों की जान गई है। सपा सात सौ किसानों को 25 लाख मुआवजा देगी। अखिलेश ने कहा कि भाजपा समाजवादियों की नकल करती है। समाजवादी एक रथ निकला तो भाजपा ने छह रथ निकाल दिए। उनके छह रथ पर हमारा एक रथ भारी है। भाजपा की ठोको सरकार को जनता चुनाव में समाजवादी को वोट ठोंककर जवाब देगी।

इसे भी पढ़ें: पीएम के दौरे में सुरक्षा प्रक्रिया में लापरवाही अस्वीकार्य, जवाबदेही तय की जाएगी: शाह

गोंडा में उन्होंने कहा कि अगर भाजपा अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर बनाना चाहती तो एक वर्ष में बन जाता। भाजपा मंदिर बनाना नहीं बल्कि, उसके नाम पर वोट लेना चाहती है। समाजवादियों ने सिर्फ छह माह में ही भगवान परशुराम का मंदिर बना दिया। अखिलेश यादव ने भाजपा की जनविश्वास यात्रा पर तंज कसते हुए कहा कि इन्हें जनविष्वास यात्रा नहीं बल्कि, प्रदेश में जनमाफी यात्रा निकालनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: पंजाब में सुरक्षा में चूक को लेकर मोदी ने कहा-अपने मुख्यमंत्री को धन्यवाद कहना कि मैं भटिंडा हवाई अड्डे तक जिंदा लौट पाया

सपा प्रमुख अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार झूठ पर झूठ बोलती है। भाजपा सरकार ने कहा था कि नोटबंदी से भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा। विदेशों में जमा कालाधन वापस होगा। मगर न तो भ्रष्टाचार खत्म हुआ और न ही कालाधन ही वापस आया। सपा में एक्सप्रेस-वे, मेट्रो, समेत सभी काम रिकार्ड टाइम में हुए थे। अखिलेश ने कहा कि सपा सरकार ने बच्चों को लैपटाप दिए थे, जो पढ़ाई में काम आ रहे हैं। सपा की नकल कर भाजपा ने भी लैपटाप देने का वादा किया था। मगर दे रहे हैं टैबलेट। वह भी देते हुए साढ़े चार साल हो गए पर अभी तक नहीं मिला। कहा कि भाजपा ने कारखाना लगाया है, लेकिन गोंडा, बहराइच, अयोध्या व बाराबंकी कहीं भी कारखाना नहीं लगा।

इसे भी पढ़ें: सिद्धू पर भड़के उपमुख्यमंत्री रंधावा, बोले- मैं अपना गृह मंत्रालय उनके पैरों में फेंक सकता हूं

उन्होंने कहा कि भाजपा झूठा प्रचार कर रही है कि सपा सरकार में दंगे हुए। उन्होंने 2012-2015 में प्रदेश में कितने दंगे हुए सभी जानते हैं। एनसीआरबी की रिपोर्ट बताती है कि उसके बाद कितने दंगे हुए हैं। दंगा कराने वाले तो अब सरकार में बैठे हैं तो दंगा कहां से होगा। भाजपा ठोको राज चला रही है। भाजपा जनमाफी रैली निकालकर लोगों से माफी मांगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here